india me 5g kab launch hoga ya aayega

आज का जो सवाल बन गया है वह है की Bharat / India me 5G kab Tak Launch hoga या फिर kab Aayega. तो आज हम बात करने वाले हैं कि 5G kab tak aayega और 5G के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश करूंगा।

india me 5g kab launch hoga

5G आने के लिए तैयार हो चुका है लेकिन अभी इसमें कुछ काम बाकी है इसलिए अभी 5G आने में थोड़ा समय लगेगा भारतीय आईटीयू भारत सरकार ने आईटीओ में अपने रिपोर्ट को भेज दिया है। 

अब आईटीओ के जवाब का इंतजार है ITU भी अपना काम शुरू कर दिया है जैसे ही मॉड्यूल तैयार हो जाएगा तो भारत भी 4G से 5G को लगाने में लग जाएगा।
india me 5g kab launch hoga
india me 5g kab launch hoga


5G kya hai

आने वाली पीढ़ी के लिए 5G बहुत ही ज्यादा काम के साबित होने वाला है क्योंकि इसकी स्पीड 4G से बहुत ही ज्यादा है, जिस काम को करने के लिए आप 4G में बहुत ज्यादा समय लगाते हैं उस काम को करने के लिए 5G कुछ ही सेकंड लगाएगा।

यहां पर G का मतलब जनरेशन होता है अभी हम जो टेक्नोलॉजी यूज कर रहे हैं वह चौथा जनरेशन है मतलब कि 4G है आने वाला पांचवा जनरेशन 5G कहा जाएगा। 

जब सालों पहले 1980 में 1g आया था तो आप उस समय के टेक्नोलॉजी से केवल किसी को कॉल करके उससे बात कर सकते थे।


5G ki Speed kitani hogi

5G 4जी से 100 गुना तेज रहेगा इसमें आप कोई भी मूवी डाउनलोड करने के लिए 3.6 सेकंड ही लगेंगे।

5G टेक्नोलॉजी से रिस्पांस टाइम और भी अच्छा हो जाएगा जैसे कि मान लीजिए कोई डॉक्टर विदेश में बैठकर रोबोटिक मशीन के जरिए किसी मरीज का इलाज कर रहा है।
Mbps aur MB/s me kya antar hai
तो वाह डॉक्टर वहां पर जो भी एक्टिविटी करेगा वह एक्टिविटी यहां पर मरीज के पास तुरंत शुरू हो जाएगा लेकिन यह टेक्नोलॉजी 4G में नहीं है।

हमारे शरीर का रिस्पांस टाइम 100 मिली सेकंड होता है लेकिन 5G में 1 मिली सेकंड का रिस्पांस टाइम मिलेगा।

मतलब की हम किसी खतरे को समझने के लिए 100 मिली सेकंड लगा देते हैं लेकिन यहां पर 5G 1 मिली सेकंड में ही उस खतरे को पता कर लेगा।


5G tej kaise hai

5G का इतना तेज होने का कारण है मिलीमीटर्स वेब आपके हमारे जितने भी डिवाइस है, सब frequency पर काम करते हैं,

आज के जनरेशन 4G टेक्नोलॉजी में 6 गीगा हर्ट का उपयोग किया जाता है, लेकिन 5G टेक्नोलॉजी में 300 गीगाहर्टज frequency का उपयोग किया जाएगा।
VPN kya hota hai
जिससे एक साथ बहुत सारे लोग जब इंटरनेट को यूज करेंगे तो इंटरनेट की स्पीड Slow नहीं होगी जो कि आज के समय में होता है।

4जी में 500 वर्ग किलोमीटर में 1000000 डिवाइस को कनेक्ट कर सकते हैं लेकिन 5G में 1 वर्ग किलोमीटर में 1000000 डिवाइस को कनेक्ट कर सकते हैं।


5G ki kamiya

millimeter-wave से आपको स्पीड तो बहुत अच्छी मिलती है लेकिन इसकी कुछ कमियां भी है मिलीमीटर वेब्स ज्यादा दूर तक ट्रेवल नहीं कर सकती हैं,
Public Wi fi se Phone ya Laptop Hack Ho sakta hai, isase kaise bache
जैसे कि मान लीजिए आपका घर टावर से 600 मीटर दूरी पर है तो यह फोन 5G नेटवर्क आप तक नहीं पहुंच पाएगा क्योंकि 5G का मैक्सिमम ट्रैवल 300 मीटर है। 

5G को सभी जगह तक पहुंचाने के लिए ज्यादा से ज्यादा टावर का यूज होगा इसीलिए इस पर अभी कुछ काम बाकी है और फिर उसके बाद यह 5G हमारे डिवाइस में देखने को मिल जाएगा।

Post a Comment

0 Comments